Sunday, April 18, 2021
Home भारत

भारत

भगवान ब्रह्मा, विष्णु, महेश के हैं यह पुत्र विशेष…

-धरती पर आज भी विराजमान है इनके वंशज त्रिदेवों भगवान ब्रह्मा, भगवान श्री विष्णु औऱ भगवान श्री महेश (महादेव) में से भगवान श्री विष्णु औऱ देवों के देव महादेव ने इस धरती पर अवतार धारण कर दुष्ट प्रवृति के लोगों...

घर बैठे ही पेट के रोग होंगे दूर… करें इसका सेवन

रसोई में मौजूद है कई रोगों की रामबाण औषधि प्रकृति ने हमें कई प्रकार की जड़ी-बूटियां व औषधियां दी हैं। जिनका सही मात्रा में प्रयोग कर के हम निरोग रह सकते हैं। और कई प्रकार के रोगों से निजात पा...

भगवान के सिर के बाल, ठोडी के घाव में छिपे हैं अनुसुलझे रहस्य

-हजारों साल से गर्भगृह में जल रहे हैं चिराग --तिरुपति बाला जी के मंदिर में छिपे हैं कई रहस्य भारत के हर राज्य में हजारों की तादाद में स्थापित प्राचीन मंदिर देश की पुरातन संस्कृति की धरोहर हैं। इनमें से बड़ी...

इस अनादि काल मंत्र की संतान है चारों वेद ऋग्वेद, यर्जुवेद, सामवेद व अथर्ववेद

-सृष्टिकर्ता ब्रह्मा जी के चार मुखों से हुई थी चारों वेदों की रचना -सृष्टिकर्ता ब्रह्मा जी को आकाशवाणी से हुई थी गायत्री मंत्र की प्राप्ति -गायत्री महा मंत्र के भाव को अन्य धर्मों ने भी स्वीकारा गायत्री महामंत्र ॐ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यं...

12 सप्ताह में याददाश्त बढ़ानी है तो खाएं इस पौधे के पत्ते…

भारत में प्राचीन समय से ही आयुर्वेदिक चिकित्सा को महत्व दिया गया है। आयुर्वेदिक चिकित्सा प्रणाली के द्वारा जटिल से जटिल व पुरानी बीमारियों का इलाज जड़ी-बूटियों से किया जाता है। भारतीय वनस्पति में कई प्रकार के पेड़-पौधे व...

यहां हुआ था भगवान श्री कृष्ण का अंतिम संस्कार ??

-समुद्र में समाई श्री कृष्ण की कर्मभूमि द्वारका के रहस्य की खोज जारी -हिरण्य, सरस्वती और कपिला नदियों के संगम के पास हुआ था भगवान श्री कृष्ण का अंतिम संस्कार भारत की प्राचीन सभ्यता ने सदियों से विदेशियों को अपनी तरफ आकर्षित...

एक से दस तक गिनती में छिपी हैं रोमांचक जानकारियां, विज्ञान हो या गणित

प्रदीप शाही -भारतीय ऋषि मुनियों का अनूठा गणना तंत्र अनुसंधान विज्ञान हो या गणित। भारतीय ऋषियों मुनियों के ज्ञान का विश्व में कोई भी सानी नहीं माना जा सकता है। वेदों, उपनिषदों और पुराण में संग्रहित ज्ञान के समक्ष हर कोई...

त्रिदेव ब्रह्मा, विष्णु, महेश के प्रतीक “ॐ” में है आलौकिक आभा का समावेष

- "ॐ" मंत्रोच्चारण से होता है कई रोगों का निदान -हर धर्म में एकाक्षर मंत्र का है विशेष महत्व इस सृष्टि के रचियता कहे जाने वाले त्रिदेव ब्रह्मा, विष्णु, महेश को "ॐ", ओ३म् का प्रतीक माना गया है। एकाक्षर मंत्र "ॐ"...

गर्म पानी पीने से यह रोग होंगे जड़ से खत्म

दोस्तो पानी मानव के लिए प्राण तत्व है। कहा जाता है कि जल है तो जीवन है। आज हम आपको गर्म पानी से जुड़े कुछ ऐसे तथ्य बताएंगे जिसके बाद आप अपनी दिनचर्या में गर्म पानी का सेवन जरूर...

एक गांव जिस पर भूतों का हुआ कब्जा, तो सरकार ने टूरिस्ट स्पाट बना...

-राजा के क्रूर मंत्री ने गांव की खूबसूरत लड़की की रखी थी मांग, जिस पर एक ही रात में खाली हो गया गांव -पैरा नारमल एक्टिविटी की जांच करने वाली टीमें भी जमीन छोड़ भागी - गांव में आते ही तापमान...