बहरापन व कानों के रोग होंगे दूर.. करें इसका प्रयोग..

0
134

-हींग के सेवन से पाचन तंत्र में होता है सुधार

-हींग है प्राकृतिक दर्द निवारक

भारतीय रसोई में कुछ ऐसी वस्तुओं का प्रयोग भी किया जाता है जो खाने के स्वाद को बढ़ाने के साथ-साथ सेहत को भी लाभ पहुंचाते हैं। अकसर दाल व सब्ज़ी में हींग का प्रयोग किया जाता है। हींग के प्रयोग से खाने का स्वाद व महक दोनों बढ़ जाते हैं। लेकिन आज हम आपको बताएंगे कि हींग का सेवन सेहत संबंधी कितनी समस्याओं व रोगों का निदान करता है।

इसे भी पढ़ें…गर्म पानी पीने से यह रोग होंगे जड़ से खत्म

हींग फेरूला फोइटिस नामक पौधे का चिकना रस होता है। हींग की तासीर खुश्क व गर्म होती है। हींग के पौधे अफगानिस्तान, काबुल, ब्लोचिस्तान व तुर्किस्तान के पहाड़ी क्षेत्रों में पाए जाते हैं। हींग की छाल पर हल्की सी चोट या कट लगाने से एक दूध जैसा पदार्थ निकलता है यही दूध सूखने के बाद हींग कहलाता है।

हींग के फायदे

पाचन तंत्र में करे सुधार

पाचन संबंधी समस्याओं से राहत पाने के लिए प्राचीन समय से ही हींग का प्रयोग किया जाता है। हींग के सेवन से पेट की गैस, अपच, पेट के कीड़ों इत्यादि समस्याओं से निजात मिलती है।

हाई ब्लड प्रेशर को करती है नियंत्रित

हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में हींग का सेवन लाभदायक होता है। हींग में मौजूद कोमरिन्स नामक तत्व खून को पतला करता है जिससे खून के थक्के नहीं बनते। हींग कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करती है और हाइपरटेंशन जैसे रोग होने की संभावना कम हो जाती है।

हींग में हैं दर्दनाशक गुण

हींग कई प्रकार के दर्द में राहत दिलाती है। फिर चाहे वह दांत का दर्द हो, पेट का दर्द हो या सिर का दर्द। हींग एक प्राकृतिक दर्द निवारक है। एक गिलास गर्म पानी में एक चुटकी हींग डालकर पीने से दर्द से राहत मिलती है।

इसे भी पढ़ें…झुर्रियां, सफेद बालों को करें टा-टा, करें सेवन…

महिलाओं की समस्याओं में है फायदेमंद

हींग का सेवन महिलाओं को मासिक धर्म में आने वाली परेशानियों से राहत दिलाता है। इस दौरान होने वाले दर्द को कम करने में हींग का सेवन लाभदायक सिद्ध होता है। दर्द से राहत पाने के लिए हींग को गर्म पानी में घोलकर पीना फायदेमंद रहता है। मासिक धर्म को नियमित करने के लिए हींग का प्रयोग करना चाहिए।

पुरुषों की यौन समस्याओं में है रामबाण

हींग पुरुषों की यौन समस्याओं में रामबाण औषधि है। इसके सेवन से यौन संबंधी समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है।

कैंसर से करती है बचाव

हींग में कैंसर विरोधी तत्व पाए जाते हैं। हींग एक एंटी-आक्सीडेंट है। हींग का सेवन कोषिकाओं को बचाता है। इसका सेवन घातक कोशिकाओं के विकास को रोकता है और कैंसर जैसी भयानक बीमारी से रक्षा करता है।

इसे भी पढ़ें…नहीं रहेगा पीठ का दर्द

दस्त में है लाभदायक

दस्त रोकने के लिए हींग का प्रयोग किया जाता है। हींग को भूनकर खाने या काढ़ा बनाकर इस्तेमाल करने से बुखार, पेट में जलन, उल्टी व दस्त में लाभ मिलता है। हींग हाज़मे को ठीक कर भूख को बढ़ाती है।

बहरापन व कान का दर्द होता है ठीक

बहरेपन में हींग का प्रयोग लाभदायक सिद्ध होता है। साथ ही हींग को सरसों के तेल के साथ गर्म कर थोड़ा ठंडा होने पर बूंद-बूंद कर कान में डालने से कान के दर्द से राहत मिलती है।

सांस संबंधी रोगों में असरदायक

सांस संबंधी रोगों व समस्याओं को दूर करने में हींग का प्रयोग लाभदायक है। खांसी व सर्दी में हींग राहत देती है। हींग में एंटी बायोटिक व एंटी वायरल तत्व मौजूद होते हैं जो अस्थमा , खांसी व कफ आदि समस्याओं में असरदायक होते हैं। हींग के सेवन से कफ आसानी से बाहर निकल जाता है।इसे भी पढ़ें…झुर्रियां होंगी कम, रूसी से मिलेगा छुटकारा

अगर किसी भी वस्तु का प्रयोग सही ढंग से नियमानुसार किया जाए तो उसका लाभ होता है लेकिन बिना किसी की सलाह से या अधिक मात्रा में किया गया प्रयोग नुकसानदायक भी हो सकता है। उसी प्रकार हींग के जहां फायदे हैं वहीं नुकसान भी हैं। हींग का सही मात्रा में सेवन सिर दर्द में राहत देता है वहीं अधिक मात्रा में सेवन घबराहट व पेट में जलन का कारण भी बनता है। गर्भवती व स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को हींग के सेवन से परहेज़ करना चाहिए क्योंकि हींग खून से संबंधित समस्याएं पैदा कर सकती है।

धर्मेन्द्र संधू

LEAVE A REPLY