शराब से होने वाले नुकसान से बचना है तो हजूर खाईए…

0
116

-स्वस्थ रहना है हजूर, तो सर्दियों में जरुर खाईए खजूर

-खजूर के सेवन से खून, कैल्शियम की कमी की होती पूर्ति
विश्व में भारत देश ही एक एेसा देश है कि जहां गर्मियां, सर्दियां, बंसत, बरसात जैसी ऋतुओं का आनंद लिया जा सकता है। जैसे मौसम बदलता हैं, वैसे ही हम अपने रहने सहने में कुछ बदलाव करते हैं। इसी तरह मौसम के बदलने पर स्वस्थ रहने के लिए हमें अपने खान-पान में भी बदलाव जरुर करना चाहिए। सर्दियों में कुछ खास खाद्य पदार्थो के सेवन से हम बेहतर ढंग से स्वस्थ रह सकते है। सर्दियों का मेवा कहे जाने वाले खजूर या पिंड खजूर में कई प्रकार के पोषक तत्व होते है। इसमें आयरन और फ्लोरिन जैसे तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं। इसके अलावा इसमें विटामिंस और मिनरल्स की भी बहुत मात्रा होती है। इसके सेवन से हम कई तरह के रोगों से निजात पा सकते हैं। खजूर में फैट का स्तर भी काफी कम होता है। जिससे कॉलेस्ट्रोल बढ़ने का खतरा नहीं होता है। खजूर में प्रोटीन के साथ साथ डाइटरी फाइबर और विटामिन B1, B2, B3, B5, A1 और C भी भरपूर मात्रा में होते हैं। फाइव एलिमेंट हेल्थ एंड सोसायटी के डॉ. जोगिंदर टाइगर के अनुसार खजूर खाने से नुकसान कम और लाभ ज्यादा होते है।

डायटिंग में खजूर का सेवन बेहद उपयोगी
डायटिंग करने वालों के लिए खजूर का सेवन बेहद उपयोगी है। अकेले खजूर में 23 कैलोरी होती है। इसमें कोलेस्‍ट्रॉल बिल्‍कुल भी नहीं होता। डायटिंग करने पर शरीर को जितनी कैलोरी की आवश्यकता होती हैं । वह खजूर खाने से पूरी की जा सकती है।

पाचन तंत्र को मजबूती, कब्ज़ से दिलाता है निजात
खजूर को रातभर पानी में भिगोकर पानी के साथ पीने से पाचनतंत्र मजबूत होता है। क्योंकि यह घुलनशील और अघुलनशील फायबर से भरपूर होता है। साथ ही इसमें अमीनो एसीड भी पाया जाता है। जिससे पाचनतंत्र प्रणाली में निश्चित तौर पर सुधार होता है। खजूर में प्रोटीन, रेशा और पोषक तत्व होते हैं। जिससे कब्‍ज की समस्‍या दूर हो जाती है। आंत विकार होने पर खजूर का नियमित सेवन करना चाहिए। क्‍योंकि इसमें कैल्‍शियम, विटामिन बी5, फाइबर, विटामिन बी3, पोटैशियम और कॉपर होता है। जो कि इस समस्‍या को दूर करता है।

इन्हें भी पढ़ें…शूगर में रामबाण हैं इस पेड़ के पत्ते

दूध में उबालने से मिलता है लाभ
खजूर में प्राक्रतिक शुगर जैसे की ग्लूकोज़, सुक्रोज़ और फ्रुक्टोज़ पाए जाते हैं। जो शरीर को एनर्जी प्रदान करते है। खजूर का भरपूर फायदा दूध में उबाल कर इस्तेमाल करने से मिलता है।

नर्वस सिस्टम व दिल की रक्षा करता है
खजूर में पोटेशियम की भरपूर और सोडियम की कम मात्रा होने के कारण से शरीर के नर्वस सिस्टम के लिए बेहद लाभदायक सिद्ध हुआ है। शोध से साबित हुआ है कि इंसान के दिमाग का संतुलन दो ही चीज़ो पर निर्भर होता है और वो है मीठा और नमक। यह दोनों तत्व समान रुप से खजूर में मौजूद होतो है | शरीर को पोटेशियम की काफी जरुरत होती है। और इससे स्ट्रोक का खतरा कम होता है। खजूर शरीर में होने वाले LDL कॉलेस्ट्रोल के स्तर को भी कम कर दिल को स्वास्थ्य रखता है।

लोअ बीपी से मिलता है छुटकारा
कम रक्तचाप वाले रोगी 3-4 खजूर गर्म पानी में धोकर गुठली निकाल दें। इन्हें गाय के गर्म दूध के साथ उबाल लें। उबले हुए दूध को सुबह-शाम पीने से कुछ ही दिनों में कम रक्तचाप से छुटकारा मिल जाता है |

इन्हें भी पढें….इन तीन फलों के सेवन से होता है मोटापा कम, बाल कम होते हैं सफेद

खून की कमी को करता है दूर
खजूर में पाया जाने वाला आयरन शरीर में खून की कमी को ठीक करने में बहुत कारगर साबित हुआ है। खजूर का अधिक मात्रा में सेवन करने से खून की कमी को दूर किया जा सकता है।

दांतों के रोग को करता है दूर
खजूर दांत का दर्द और उसकी सड़न को भी दूर करता है क्योकि ख़जूर में फ्लूरिन पाया जाता है। जिससे दांतों के क्षय होने की प्रकिया कम हो जाती है।

सेक्सुअल स्टेमिना बढाने का अचूक उपाय
खजूर को रातभर बकरी के दूध में गलाकर सुबह पीस लेना चाहिए और फिर इसमें थोड़ा शहद और इलाइची मिलाकर सेवन करने से सेक्स संबंधी समस्याओं में बहुत लाभ होता है। सेक्सुअल स्टेमिना भी बढाता है।

शराब पीने से शरीर को होने वाले नुकसान से बचाना
खजूर उन लोगों के लिए अत्यधिक लाभकारी है जो वजन बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। इसका उपयोग शराब पीने से शरीर को होने वाले नुकसान से बचने में भी किया जाता है।

रतोंधी से भी छुटकारा
खजूर की सबसे अच्छी बात यह है कि इसको खाने से कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है | इससे आंखों की रोशनी भी बढ़ती है साथ ही इसके नियमित उपयोग से रतोंधी से भी छुटकारा मिलता है।

गर्भवती महिलाओं के लिए है वरदान
खजूर गर्भवती महिलाओं के लिए तो वरदान होता है। क्योंकि खजूर उनके तथा उनके शिशु के लिये आयरन, कैल्‍श्यिम, मैग्‍नीशियम, फास्‍फोरस और सेलीनियम से भरा खजाना है। इसको खाने से खून में हीमोग्‍लोबीन बढ जाता है। यह बच्चेदानी की दीवार को मज़बूती प्रदान करता है। इससे बच्चों के पैदा होने की प्रक्रिया आसान हो जाती है और खून का स्त्राव भी कम होता है। यह स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए भी लाभकारी है।

इन्हें भी पढ़ें…अदरक है रोगों के निदान का अचूक राम वाण

ऑस्‍टियोपुरोसिस यानि हड्डियों में दर्द , जोड़ों का दर्द
मौजूदा समय में सभी को जोड़ों में दर्द की शिकायत है। हड्डियों में दर्द केवल कैल्‍शियम की कमी की वजह से होता है। रोजाना कुछ खजूर खाने से कैल्‍शियम की कमी को पूरा किया जा सकता है |

खजूर सेवन के अन्य लाभ
खजूर को शहद के साथ इस्तेमाल करने से डायरिया में भरपूर लाभ होता है। यहाँ शरीर के शुगर लेवल का ध्यान अतिआवश्यक है। खजूर से पेट का कैंसर भी ठीक होता है। खजूर के उपयोग से निराशा को दूर किया जा सकता है |

रमजान के महीनो में मुस्‍लिम भाई-बहन अपना रोजा खजूर खा कर तोड़ते हैं। क्योकिं खजूर में कई तरह के स्‍वास्‍थ्‍य वर्धक गुण हैं। इसको खा कर उर्जा आती है। डॉक्‍टर टाइगर लोगों को हर दिन कुछ खजूर खाने की सलाह देते हैं। यहां तक कि जो लोग डायबिटीज से लड़ रहे हैं, वे भी एक या खजूर का सेवन बड़े आराम से कर सकते हैं। क्योकिं इससे ब्‍लड शुगर नहीं बढता है । मध्य और पूर्वी भूमध्य देशें में बनाये जाने वाले व्यंजनों में भी खजूर का भरपूर इस्‍तमाल किया जाता है।

वंदना

LEAVE A REPLY